google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
NHAI
Symbolic Photo Source - Twitter

Agra-Gwalior Expressway: NHAI यानी भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने आगरा से ग्वालियर तक के 6 लेन एक्सप्रेसवे के निर्माण के लिए 3,841 करोड़ रुपए के टेंडर को जारी कर दिया है। जिससे दोनों शहर के बीच यात्रा का समय आधे से भी काम हो जाएगा। 88.40 किलोमीटर लंबे इस एक्सप्रेसवे के निर्माण का टेंडर 23 फरवरी 2024 को खोल जाने वाला है। Agra-Gwalior Expressway में बिल्ड ऑपरेट और ट्रांसफर मॉडल पर बनाया जाएगा। जिसमें ठेकेदार अपना पैसा लगाएगा और लागत वसूल होने तक टोल वसूल करेगा।

3 पैकेज में बनाने की योजना-

NHAI परियोजना के वित्त पोषण के लिए गारंटी के रूप में काम करेगा। इस परियोजना को पहले बिल्ड ऑपरेट एंड ट्रांसफर (BOT) मॉडल के तहत 3 पैकेज में बनाने की योजना बनाई गई थी। जिसमें NHAI ठेकेदारों को भुगतान करेगा और टोल खुद वसूल करेगा। हालांकि कंपनीयों ने इस योजना में रुचि कम दिखाई, जिसकी वजह से NHAI ने तीन पैकेजों को एक में मिलाने और मॉडल को BOT में बदलने का फैसला किया।

पहले टेंडर में लागत 2500 करोड-

इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 1,343 करोड़ रुपए से ज्यादा बढ़ गई है। क्योंकि BOT मोड में वित्त प्रक्रिया और अन्य कागजी कार्यवाही में ज्यादा खर्च शामिल होता है। दिसंबर 2023 में जारी किए गए पहले टेंडर में लागत 2500 करोड रुपए तय की गई थी। आगरा ग्वालियर ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे के लिए टेंडर अब HAM के बजाय BOT आधार पर किए जाएंगे। बढ़ी हुई लागत का अनुमान अभी नहीं लगाया गया है। क्योंकि अध्ययन अभी जारी है।

मध्य प्रदेश डिविजन के महाप्रबंधक-

NHAI के मध्य प्रदेश डिविजन के महाप्रबंधक बलवीर सिंह यादव ने कहा फिलहाल टेंडर खोलने की तारीख 23 फरवरी निर्धारित की गई है। एक्सप्रेसवे में 47 पुलिया, पांच बड़े पुल, एक रेलवे ओवर ब्रिज (ROB), चार छोटे पुल और दो फ्लाईवर और चंबल नदी पर सबसे बड़ा पुल होगा, जिसमें यात्रियों के रुकने और जलपान के लिए दो ट्रंपैट्स भी होंगे और साथ ही रेस्टोरेंट जैसी सुविधाएं भी दी जाएगी।

ये भी पढ़ें- Dwarka Expressway का गुरुग्राम वाला हिस्सा जल्द होगा शुरु, उद्घाटन की..

यात्रा समय एक घंटा कम-

वर्तमान में Agra-Gwalior Expressway चार लेन और 121 किलोमीटर लंबा है। यह मुरैना और धौलपुर के आबादी वाले इलाके से होकर गुजरता है। जिससे कि ट्रैफिक जाम हो सकता है। आगरा से ग्वालियर पहुंचने में दो से ढाई से घंटे का समय लगता है, लेकिन इस एक्सप्रेसवे के बनने के बाद ये दूरी 3 किलोमीटर और यात्रा समय एक घंटा कम हो जाएगा।

ये भी पढ़ें- Delhi-Mumbai Expressway का DND से सोहाना का हिस्सा जल्द होगा शुरु, घंटो का सफर मिनटो में होगा पूरा

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *