google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Chandigrah Mayor Election
Photo Source - Twitter

Chandigrah Mayor Election: कुछ समय पहले ही चंडीगढ़ में मेयर चुनाव हुए थे, जिस दौरान कथित तौर पर वोटो को विकृत करने के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा रिटर्निंग ऑफिसर को फटकार लगाने के बाद समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी की आलोचना की। यादव ने सत्ता के लिए भाजपा की कथित तौर पर निंदा की है और सुझाव दिया है कि इस घटना ने चुनाव में धांधली करने की उनकी इच्छा को उजागर किया है। उन्होंने ऐसे नेतृत्व में देश के भविष्य के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए भाजपा समर्थकों से जीत हासिल करने के लिए चोरी और घोटालों पर पार्टी की निर्भरता को पहचानने का आग्रह किया है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने रिटर्निग ऑफिसर अनिल में सिंह से सवाल पूछे थे और कहा कि चुनावी लोकतंत्र में वोटो पर निशान लगाने की अनुमति नहीं दी जा सकती।

मुख्य न्यायाधीश डिवाईन चंद्रचूड-

सुनवाई के दौरान भारत के मुख्य न्यायाधीश डिवाईन चंद्रचूड ने 30 जनवरी को हुए मेयर चुनाव के तरीके पर नाराजगी जताते हुए रिटर्निंग ऑफिसर से कहा कि किसी भी झूठ के मामले में उन पर मुकदमा चलाया जा सकता हैय़ अखिलेश यादव ने एक्स पर एक पोस्ट करते हुए लिखा कि भाजपा पीठासीन अधिकारी द्वारा चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली का अपराध स्वीकार करना दर्शाता है कि बीजेपी को सत्ता की कितनी भूख है। कानूनी और संवैधानिक आधार पर बीजेपी को पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। साथ ही हर जगह की सत्ता को छोड़ देना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की खुलेआम हत्या करने की शर्मनाक हरकत के लिए भाजपा समर्थकों को सिर झुकाना चाहिए।

चोरी और घोटालों के जरिए हर चुनाव जीत रही है-

उन्होंने यह भी लिखा कि उन्हें समझना चाहिए कि कैसे भाजपा चोरी और घोटालों के जरिए हर चुनाव जीत रही है। ऐसे लोगों के हाथों में ना तो देश सुरक्षित है, ना वर्तमान और ना ही उनके बच्चों का भविष्य। आज भाजपा समर्थकों के लिए नैतिक शोक का दिन है। सपा प्रमुख ने BJP का समर्थन करने वाले अधिकारियों को भी कहा कि इस घटना से उनका और उनके परिवार का जीवन बर्बाद हो जाएगा। ऐसे लोग अपराधियों से काम नहीं होते। इसके लिए उन्हें निश्चित रूप से कड़ी सजा दी जाएगी। अब अधिकारियों को यह समझ लेना चाहिए कि बीजेपी उनका इस्तेमाल कर रही और उन्हें दूध में पड़ी मक्खी की तरह बाहर फेंक देगी।

ये भी पढ़ें- Agra-Gwalior Expressway से यात्रा के समय में होगी कटौती, NHAI ने..

समाज में मुंह दिखाने लायक नहीं-

अपने बच्चों और समाज के सामने मुंह दिखाने लायक नहीं रहेंगे। अधिकारियों को याद रखना चाहिए कि जालसाज़ किसी से आगे नहीं होते। खरीद-फरोस्त पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को नए सिरे से मतदान चुनाव का आदेश देने की बजाय वह पहले ही डाले गए वोटो के आधार पर परिणाम घोषित करने का विचार कर सकती हैं। चंडीगढ़ मेयर चुनाव में BJP की जीत से कांग्रेस आप गठबंधन को झटका लगा था। बीजेपी के मनोज सोनकर विजई रहे जिन्हें 16 वोट मिले। जबकि उनके प्रतिद्वंदी आप उम्मीदवार कुलदीप कुमार को 12 वोट मिले। जबकि आठ वोटो को अमान्य घोषित कर दिया गया। हालांकि सोनकर ने रविवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

ये भी पढ़ें- Dwarka Expressway का गुरुग्राम वाला हिस्सा जल्द होगा शुरु, उद्घाटन की..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *