google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
New Noida Expressway
Symbolic Photo Source - Twitter

Delhi-Mumbai Expressway: अगर आप दिल्ली एनसीआर में रहते हैं तो आपके लिए बहुत अच्छी खबर है। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को कहा, कि महारानी बाग के पास से DND Flyover से सुहाना में Delhi-Mumbai Expressway तक पूरा 59 किलोग्राम मीटर का हिस्सा इस साल के आखिर तक शुरू होने वाला है। एक बार जब यह मार्ग यातायात के लिए खुल जाएगा, तो दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद के यात्रियों को आगरा या दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे पर पहुंचने में भीड़ भाड़ वाले मथुरा रोड का सहारा नहीं लेना होगा।

यात्रा का समय काफी कम-

इस परियोजना के पूरा होने से यात्रा का समय काफी कम होने वाला है और हजारों लोगों को सुगम आवाजाही का अनुभव मिलेगा। वर्तमान में मथुरा रोड मार्ग अपने भारी यातायात और लंबी देरी के लिए जाना जाता है। जिससे कि यात्रियों को निराशा और असुविधा का सामना करना पड़ता है। इस हिस्से के चालू होने के बाद से ही यात्रियों के पास एक वैकल्पिक मार्ग होगा, जो सड़क पर भीड़ कम करने और सुगम यातायात यातायात में सुधार करने में आपकी मदद करेगा।

महत्वपूर्ण कॉरिडोर-

Delhi-Mumbai Expressway एक बहुत ही महत्वपूर्ण कॉरिडोर है जो कि भारत के दो प्रमुख शहरों को जोड़ता है। इस हिस्से के पूरा होने के बाद से ही जरूरी महत्वपूर्ण लिंक और भी मजबूत हो जाएगा। नितिन गडकरी ने हाल ही में राष्ट्रीय राजमार्ग 148NA पर फरीदाबाद बाईपास साइट और सोहाना राजमार्ग के पैकेज एक और दो के निर्माण का निरीक्षण किया है। जिसमें दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे का एक हिस्सा शामिल है। 3,565 करोड रुपए के निवेश वाली यह महत्वाकांक्षी परियोजना भारतमाला परियोजना के तहत हाइब्रिड मोड पर विकसित की जा रही है।

25 से 30 मिनट में पलवल-

Delhi-Mumbai Expressway से सीधी कनेक्टिविटी प्रदान करने के अलावा DND Flyover से इस लिंक का इस्तेमाल यात्रियों द्वारा सिर्फ 25 से 30 मिनट में पलवल तक पहुंचने के लिए किया जा सकता है। वर्तमान में मथुरा रोड फरीदाबाद, आगरा और पलवल की ओर जाने वाले वाहनों के लिए एकमात्र सड़क है। इसके अलावा इस लिंक के पूरा होने के मतलब यह है कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से यात्रा करने वाले लोग देहरादून-दिल्ली और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे लेकर मुंबई तक बिना रुके गाड़ी चला पाएंगे।

ये भी पढ़ें- Farmers Protest: भारत 16 फरवरी को रहेगा बंद, यहां पाएं पूरी जानकारी

दिल्ली-देहरादून और Delhi-Mumbai Expressway-

एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह सब अगले साल तक शुरू हो सकता है। दिल्ली-देहरादून और Delhi-Mumbai Expressway का यह हिस्सा 2025 में पूरी तरह से शुरू कर दिया जाएगा। इस परियोजना का लक्ष्य प्रमुख राजमार्गों जैसे कि डायरेक्ट नोएडा दिल्ली, मेरठ, कुंडली, मानेसर, पलवल, Delhi-Mumbai Expressway और जेवर कनेक्टिविटी हाईवे को निर्बाध रूप से आपस में जोड़ना है। शहरी परियोजनाओं में आठ ऊंचे खंबे होंगे, जिसकी कुल लंबाई 12.034 किलोमीटर होगी।

जिसमें 10 फ्लाईओवर छह विप,13 छोटे पुल, एक ROB शामिल होगा। इसके साथ इसमें पर्यावरण का भी ध्यान रखा गया। इस परियोजना में लगभग 27 मीटर की ज्यादा ऊंचाई पर खंबों पर ऊर्जा वार्ता बागवानी शामिल की गई है। इसके अलावा ध्वनि प्रदूषण को कम करने के लिए ऊंचे-ऊंचे ध्वनि अवरोध स्थापित किया गए हैं। इसके अलावा सरकार ने 10 एकड़ बंजर भूमि जो कि पहले फ्लाई ऐश डंपिंग के रूप में इस्तेमाल की जाती है, को जंगल सफारी परियोजना में बदलने का फैसला किया है।

ये भी पढ़ें- Rahul Gandhi ने साधा BJP पर निशाना, कहा पहले पुरानी गारंटी पूरी करो..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *