google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Delhi March
Photo Source - Twitter

Farmers Protest: भारत 16 फरवरी को देशव्यापी विरोध प्रदर्शन के लिए तैयार है, क्योंकि किसानों और श्रमिकों ने क्षेत्रीय औद्योगिक हड़ताल और ग्रामीण भारत बंद की घोषणा की है। गैर राजनीतिक क्षमता में किसानों का प्रतिनिधित्व करने वाले संयुक्त किसान मोर्चा ने शुक्रवार सुबह 6:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक चलने वाले दिन भर के विरोध प्रदर्शन में भाग लेने के लिए किसान संगठनों के बीच एकता का आह्वान किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, विरोध प्रदर्शन में देश भर के प्रमुख मार्गों पर व्यापक चक्का जाम या फिर सड़क जाम किया जाने वाला है। जिसमें पंजाब पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। यहां अधिकांश राज्य और राष्ट्रीय राजमार्गों पर 4 घंटे से ज्यादा के बंद रहने की उम्मीद जताई जा रही है।

हड़ताल के लिए समर्थन व्यक्त-

34 कलाकारों और बुद्धिजीवियों द्वारा हस्ताक्षरित एक संयुक्त बयान में हड़ताल के लिए समर्थन व्यक्त किया गया है। जिसमें पृष्ठभूमि के लोगों से मज़दूरों और किसानों के साथ एक जुट खड़े रहने का आग्रह किया गया है। इस बयान के मुताबिक, व्यापक समर्थन का आवाहन किया गया है। भारत बंद की वजह से व्यवधान के बावजूद मेडिकल दुकान, एंबुलेंस संचालन और स्कूल जैसी आपातकालीन सेवाएं चालू रहने की उम्मीद जताई जा रही है। जिससे कि आवश्यक सेवाओं के न्यूनतम प्रभाव सुनिश्चित किया जा सके।

समर्थन विरोध का उद्देश्य समूह-

भागीदारी के साथ व्यापक समर्थन विरोध का उद्देश्य समूह के सामने आने वाली चुनौतियों पर ध्यान देना और सार्थक बदलाव पर जोर देना है। आपकी सुरक्षा और सुविधा सुनिश्चित करने के लिए आपसे तयानुसार यात्रा की योजना बनाने और निम्नलिखित अनुशासंधानों पर विचार करने की सलाह दी जाती है। सीमा चौकिया पर कड़े सुरक्षा इंतजाम, गाजीपुर सिंधु सीमा और गुरुग्राम सीमाओं जैसे स्थानों पर महत्वपूर्ण यातायात भीड़ होने की उम्मीद जताई जा रही है। अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षित और तेज मार्गों के बारे में दैनिक अपडेट भी दिया है।

सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल-

जिसमें कहा गया है कि वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों के लिए यात्रा योजना बनाने से आपका बचना ही अच्छा रहेगा। अगर संभव हो तो यातायात करने से बचने के लिए आप यात्रा के लिए सही समय देखकर ही निकलें। भीडभाड़ के प्रभाव को कम करने के लिए अपनी यात्रा पहले या बाद में शुरू करने पर विचार करें। मेट्रो बसों जैसी सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल करने पर विचार करें, जो कि इस दौरान ज्यादा कुशल और परेशानी मुक्त आवाजाही की लिए सही होगा।

ये भी पढ़ें- Rahul Gandhi ने साधा BJP पर निशाना, कहा पहले पुरानी गारंटी पूरी करो..

आपातकालीन सेवाएं जारी-

यातायात की भीड़ के बावजूद भी आपातकालीन सेवाएं जैसे कि एंबुलेंस सेवा जारी रहेगी। यह सुनिश्चित करें कि अगर जरूरी हो तो आपके पास आपातकालीन संपर्क नंबर और चिकित्सा सहायक तक पहुंच जरूरी हो। किसान अपने उपज के लिए एमएसपी की गारंटी वाले कानून के साथ ही हरियाणा, पंजाब की सड़कों पर हैं। दिल्ली जाने कि जिद, मनरेगा को मजबूत करने और पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने और सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- Mushroom on Frog: हैरान करने वाला मामला, मेंढ़क के शरीर पर उगा मश..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *