google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Delhi NCR
Symbolic Photo Source - Google

Delhi NCR: गाजियाबाद, नोएडा और दिल्ली में जल्द ही यातायात की भीड़ कम होने वाली है। क्योंकि 8 नई सड़क परियोजनाएं जल्द ही जनता के लिए खोले जाने की उम्मीद जताई जा रही है। 2014 के बाद केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में भीड़भाड़ को कम करने के लिए बहुत सी परियोजनाओं का प्रस्ताव दिया हैय़ ध्यान देने वाली बात यह है कि 60,000 करोड रुपए से ज्यादा की कुल 16 सड़क परियोजनाओं की योजना बनाई गई है, जो कि लगभग 870 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली हैं। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने भी क्षेत्र में लगभग 370 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली 24,600 करोड़ रुपए की 8 परियोजना पूरी की है और इन परियोजनाओं में 135 किलोमीटर लंबाई वाली ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस और दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे शामिल है।

यातायात की भीड़ कम-

सड़क परियोजनाओं में 70 किलोमीटर लंबी दिल्ली, पानीपत, इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और धौला कुआं के बीच 8 लेन का गलियारा शामिल है। समाचार वेबसाइट न्यूज 18 के मुताबिक, दिल्ली एनसीआर में 500 किलोमीटर लंबी कम से कम 8 और परियोजनाएं आने वाली है, जो की यातायात की भीड़ को कम करने में आपकी मदद करेंगे। रिपोट़्स की मानें तो इनमें से पांच सड़के जून से पहले और 1 दिसंबर तक पूरी होने की उम्मीद जताई जा रही है।

ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे-

दो अन्य परियोजना थोड़ी देर बाद पूरी हो जाएगी। इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कुल पांच में से दो प्रमुख सड़क परियोजना 30 किलोमीटर के द्वारका एक्सप्रेसवे क्षेत्र की विस्तार रोड का उद्घाटन इस महीने होने की उम्मीद है और दो अन्य परियोजना अक्षरधाम मंदिर और ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे के बीच 32 किलोमीटर लंबाई वाली सड़क, दिल्ली और जयपुर के बीच 225 किलोमीटर वाली सड़क जून तक जनता के लिए खोले जाने की उम्मीद जताई जा रही है।

फरीदाबाद और सोहाना इंटरचेंज-

कालिंदी कुंज, फरीदाबाद और सोहाना इंटरचेंज के बीच 60 किलोमीटर की सड़क दिसंबर 2024 तक तैयार हो जाएगी। मुहाना और सोनीपत के बीच एक और चार लेन की 39 किलोमीटर की सड़क अगले महीने तक पूरी हो जाएगी। जून 2025 तक दिल्ली नोएडा एयरपोर्ट को जोड़ने वाली एक नई सड़क भी जनता के लिए खोली जाएगी। यह नई सड़क पूर्वी दिल्ली या पश्चिम में उत्तर प्रदेश से दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे लेने वालों के लिए यातायात को आसान बनाएगी।

ये भी पढ़ें- Agra-Gwalior Expressway से यात्रा के समय में होगी कटौती, NHAI ने..

60,000 करोड़ रुपए की सड़क परियोजना-

नई अपडेट से पता चलता है कि 60,000 करोड़ रुपए की यह सड़क परियोजना 27,000 करोड़ रुपए के उद्गम पूरे हो चुके हैं। जबकि 33000 करोड़ रुपए की परियोजना पूरी होने की प्रक्रिया में है। किसानों के विरोध प्रदर्शन या किसी त्योहार की वजह से दिल्ली नोएडा में हमेशा जाम लग जाता है। दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम, फरीदाबाद के भी लोगों को लगभग रोजाना ही परेशानी का सामना करना पड़ता है। लेकिन इन सड़क के बनने से इन शहरों के बीच यातायात की भीड़ को कम करने में मदद मिलेगी।

ये भी पढ़ें- Chandigrah Mayor Election पर अखिलेश ने कहा BJP चोरी से चुनाव जीत..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *