google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
New Tech
Photo Source - Google

New Tech: वैज्ञानिकों ने हाल ही में एक बड़ी सफलता मिली है, दरअसल कैलिफोर्नियां इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के सांइटिस्ट्स ने एक ऐसी मशीन का निर्माण किया है जो इंसानों के दिमाग के पढ़ सकती है। वैज्ञानिकों का दावा है कि यह मशीन इंसान के दिमाग को 79 प्रतीशत तक सही पढ़ सकती है। यह मशीन इंसानों के दिमाग में क्या चल रहा है यह जान कर उस विचार को लिख देती है, जिससे हम जान सकें कि सामने वाले के दिमाग में क्या चल रहा है।

New Tech किन लोगों के लिए फायदेमंद-

अब सवाल यह उठता है कि इस मशीन का इस्तेमाल क्यों किया जाना चाहिए या फिर इसे बनाने के पीछे वैज्ञानिकों का क्या उद्देश्य है, अगर आपके मन में भी यह सवाल है तो हम आपको बता दें कि इस मशीन का निर्माण उन लोगों के दिमाग को पढ़ने के लिए किया गया है, जो बोल नहीं पाते या किसी बीमारी के कारण अपनी भावनाओं को व्यक्त नहीं कर सकते। इस मशीन की मदद से उन लोगों के मन या दिमाग में चल रही बातों को जानने में मदद मिलेगी। इससे हम यह जान पाएंगी की आखिर इस समय वह क्या करना चाहते हैं या क्या सोच रहे हैं।

New Tech कैसे काम करती है-

वैज्ञानिकों ने इस मशीन का नाम BMI रखा है, वैज्ञानिको का कहना है कि यह एक ऐसा मशीन है जो इंसानों के दिमाग और कम्प्यूटर के बीच की दूरी को खत्म कर देती है। वैज्ञानिको का कहना है कि यह मशीन इंसानों के दिमाग के उस हिस्से का इस्तेमाल करती है जिसका नाम सुपरमार्जिनल गाइरस है, यह हमारे गिमाग का वह हिस्सा है जो किसी भी तरह कि भाषा को समझने में हमें मदद करता है।

ये भी पढ़ें- Wifi Connection लेने पर ये कंपनी साथ दे रही फ्री स्मार्ट टीवी, यहां जानें प्लान

वैज्ञानिकों का कहना है कि इस मशीन की मदद से हमारे दिमाग के सुपरमार्जिनल गाइरस वाले हिस्से में छोटे इलेक्ट्रॉन को छोड़ते हैं और जब हम किसी शब्द के बारे में सोचते हैं, तो इलेक्ट्रॉन हमारी बातों को सुनने वाले किसी इंसान की तरह हमारे विचारों को सुनते हैं उसके बाद यह हमारे दिमाग से मिली जानकारी को एक कम्प्यूटर में फीड करते हैं। यह एक ऐसी मशीन है जिसे हमारे विचारो और सोच को जानने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

79 प्रतिशत तक सटीक जानकारी-

इसके साथ ही वैज्ञानिकों का कहना है कि जब इसकी टेस्टिंग की गई तो इसने इमेज और टेक्ट के ज़रिए इंसान के दिमाग में चल रहे विचारों के बारे में 79 प्रतिशत तक बिल्कुल सही जानकारी दी। यह मशीन उन लोगों के उन लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होगी जो अपनी बातों को बोल पाने में सक्षम नहीं हैं या गूंगे हैं।

ये भी पढ़ें- 60 हज़ार से भी कम में मिल रहा iPhone15, फ्लिपकार्ट की बिग सेविंग…

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *