google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Election 2024
Photo Source - Google

Election 2024: भारत में लोकसभा चुनाव शुरु हो चुके हैं कल यानी 19 अप्रैल को पहले चरण के मतदान हुए। लेकिन सूत्रों के हवाले से यह कहा जा रहा है कि पोलिंग बूथ पर वोटिंग को वोटर्स के लिए मुश्किल बनाया जा रहा है। इसके साथ ही वोटिंग के दौरान पोलिंग बूथ पर हो रही वोटर्स की दिक्कतों के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। कहीं पर लोगों को वोट देने से रोका जा रहा है तो कहीं पर ईवीएम मशीनें ही खराब हैं। इसके अलावा कहीं पर फर्जी वोटिंग के मामले भी सामने आ रहे हैं।

लोगों को वोट देने से ही रोका जा रहा है (Election 2024)-

इसके साथ हीं बहुत सी जगहों पर लोगों को वोट देने से ही रोका जा रहा है, जिसमें शहर कि पुलिस शामिल है। सोशल मीडिया पर बहुत से वीडियो वायरल हो रहे हैं जिसमें यूपी पुलिस के द्वारा लोगों को वोट देने से रोका जा रहा है। मतदाताओं के पास सही वोटर आईडी मौजूद है जो लिस्ट से भी मैच खा रही है इसके बावजूद भी लोगों से आधार कार्ड मांगा जा रहा है। पुलिस उन लोगों से घर जाने के लिए कह रही है, उनका कहना है कि पहले आप आधार कार्ड लेकर आईए उसके बाद ही आपको वोट देने की अनुमति दी जाएगी।

बीजेपी का प्रचार-

ध्यान देने वाली बात यह है कि वैध वोटर आईडी होने के बाद भी लोगों को वोट देने से रोका जा रहा है। यह पूरा मामला लोकतंत्र में नगरिकों को दिए जाने वाले अधिकारों का उल्लंघन हो रहा है। इसके अलावा पूर्व और मध्य नागपुर में खुलेआम बीजेपी का प्रचार किया जा रहा है। दरअसल सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है जिसमें लोगों को ऐसी वोटिंग स्लीप दी जा रही है जिस पर नीतिन गडकरी की फोटो लगी हुई है। इसके साथ ही उस पर सत्ता धारी पार्टी का चुनाव चिन्ह भी छपा हुआ है। चुनाव प्रचार का समय खत्म हो चुका है।

ये भी पढ़ें- AAP: क्या जेल में हो रही Arvind Kejriwal को मारने की साजिश?

रामपुर में महिलाओं के एक समूह को वोट देने से रोका गया-

ऐसे में इस तरह से पर्ची के द्वारा किसी पार्टी का प्रचार करना पूरी तरह से गैर कानूनी है। इसके अलावा रामपुर में महिलाओं के एक समूह को वोट देने से रोका गया, पहले उनसे आईडी मांगी गई। आईडी दिखाने को बाद भी उनसे स्लीप छीन ली गई और उन्हें वहां से भगा दिया गया। ध्यान देने वाली बात यह है कि विशेषज्ञों का कहना है कि चुनाव में खुलेआम बईमानी की जा रही है उसके बावजूद भी चुनाव आयोग की ओर से किसी तरह की कोई कार्यवाही अभी तक नहीं की गई है।

ये भी पढ़ें- Supreme Court: चुनाव आयोग ने की EVM में गड़बड़ी? BJP ज्यादा वोट..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *