google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
JEE Main 2024
Photo Spource - Google

JEE Main 2024: NEET, UG, JEE Main, यूपीएससी, सीएसई, प्रीलिम्स, जेईई एडवांस्ड, की परिक्षा मई और अप्रैल में आयोजित होने वाली हैं। लेकिन 18वें आम चुनाव 2024 के लिए मतदान सत्र भी उन्हीं महीनों के दौरान आयोजित किए जाएंगे। अब सवाल यह उठता है कि क्या दुनिया के सबसे बड़े चुनाव में लोकसभा चुनाव, जो 19 अप्रैल से शुरू होकर 44 दिनों तक चलने वाला है कि वजह से इन परिक्षाओं की तारिख में कोई बदलाव किया जाएगा। यह चुनाव सात चरणों में होगा, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार तीसरे कार्यकाल पर नजर गड़ाए हुए हैं। कार्यक्रम के मुताबिक वोटो की गिनती 4 जून को की जाएगी।

राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी-

रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी का कहना है की परीक्षा कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं होगा। यानि परीक्षा के लिए जो तारिख तय थी वही रहेगी। वर्तमान में सत्र 2 के लिए जेईई मेन परीक्षा 1 अप्रैल से 15 अप्रैल 2024 के बीच आयोजित होगी। JEE Main Exam में एग्जाम सिटी स्लिप मार्च 2024 के तीसरे सप्ताह में जारी किए जाएंगे। इसी बीच एनडीए में एडमिट कार्ड परीक्षा की वास्तविक तारीख से 3 दिन पहले जारी की जाएगी।

JEE Main 2024 की परीक्षा-

रिपोर्ट के मुताबिक, JEE Main की परीक्षा चुनाव कार्यक्रम के बाहर होने वाली है और इस प्रकार यह संभावना नहीं है की तारीख में बदली की जाएगी। 18वां लोकसभा चुनाव 19 अप्रैल से शुरू होगा और 26 अप्रैल, 7 मई, 13 मई, 20 मई, 25 मई और 1 जून को खत्म होंगी। पूरी चुनाव प्रक्रिया शनिवार को मतदान की घोषणा से लेकर परिणाम की घोषणा 82 दिनों तक चलेगी। यह परिक्षाएं भारत और विदेशों में विभिन्न केंद्रों में पेन और पेपर मोड में आयोजित की जाएगी।

ये भी पढ़ें- Supreme Court में नौकरी पाने का मौका, मिलेगी 80 हज़ार की सैलरी

PWBD उम्मीदवार के लिए अवधि-

परीक्षा की अवधि 3 घंटे और 30 मिनट की होगी। PWBD उम्मीदवार के लिए 3 घंटे 20 मिनट की अवधि की परीक्षा के लिए 1 घंटे 5 मिनट का प्रतिपूरक समय दिया जाएगा। भले ही वह उम्मीदवार लेखक की सुविधा का इस्तेमाल करता हो या नहीं। रिपोर्ट के मुताबिक, एनडीए के महानिदेशक सुबोध कुमार सिंह का कहना है कि मेडिकल, डेंटल और स्वास्थ्य पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा एंड NEET, UG निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आयोजित की जाएंगी।

ये भी पढ़ें- Railway Bharti: पटना में लागू धारा 144, छात्र कर रहे आंदेलन, जानें मामला

इसका सीधा मतलब यह है कि लोकसभा चुनाव के कारण परिक्षा या उसकी तारिख पर कोई असर नहीं होगा। साथ ही इस परिक्षा में जो उम्मीदवार विकलांग है यानि जिसे परीक्षा के लिए किसी अन्य व्यक्ति की ज़रुरत होती है उनके समय में कुछ छुट दी गई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *