google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
NMRC
Photo Source - Twitter

NMRC: Delhi से लेकर एनसीआर तक सभी लोगों के लिए दिल्ली मेट्रो किसी लाइफ लाइन से कम नही है। हज़ारों लोग रोजाना अपने काम पर जाने या फिर एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने के लिए मेट्रो का इस्तेमाल करते हैं। इसीलिए यात्रियों की सुविधाओं के लिए DMRC और NMRC हमेशा नए-नए सेवाएं शुरू करती रहती है। जिससे कि लोग इससे जुड़े रहे और नोएडा की ओर से हाल ही में एक शानदार आईडिया लाया गया है। NMRC की ह सुविधा लोगों को खूब पसंद आने वाला है। दरअसल नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन यानी NMRC ने मेट्रो कोच में रेस्टोरेंट को शुरू करने की घोषणा कर दी है और इसकी खास बात यह है कि आप मेट्रो में सफर के दौरान खाने पीने के अलावा पार्टी और मीटिंग भी कर सकते हैं।

100 से ज्यादा लोगों के बैठने की शानदार व्यवस्था-

यही नहीं इसके लिए 100 से ज्यादा लोगों के बैठने की शानदार व्यवस्था भी की गई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मेट्रो कोच के अंदर NMRC ने एक रेस्टोरेंट तैयार किया है। जिसका ट्रायल भी शुरू किया जा चुका है। उद्घाटन के बाद इसे जल्द ही शुरू कर दिया जाएगा। जानकारी के मुताबिक, नोएडा सेक्टर 137 में मेट्रो रेल कोच के रूप में तैयार किया जा रहा है। जिसमें अंदर के साथ-साथ बाहर भी बैठने की व्यवस्था की गई है। रिपोर्ट के मुताबिक, हो सकता है कि 20 अप्रैल से सुबह 11:30 से रात 12:00 तक के लिए इसे जनता के लिए खोला जाए। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसका 9 साल का कॉन्ट्रैक्ट एक एजेंसी को दिया जा चुका है।

Photo Source – Twitter

मेट्रो नेटवर्क के अंदर रेस्टोरेंट-

नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड में इस अनोखे रेस्टोरेंट की सॉफ्ट ओपनिंग की घोषणा भी कर दी है। इसका मतलब यह है कि ग्राहक ऑर्डर दे सकते हैं और इसके लॉन्च से पहले भोजन के अनुभव का आनंद लेने के लिए इस जगह पर जा सकते हैं। कर्मचारियों के बुनियादी ढांचे और प्रशिक्षण की स्थापना के पूरा होने पर रेस्टोरेंट 20 अप्रैल से पूरी तरह से चालू होने की उम्मीद है। NMRC ने अपने संचालन देखने के लिए मेट्रो नेटवर्क के अंदर रेस्टोरेंट के प्रबंधन के लिए एजेंसी को सौंप दिया है। यह पहल यात्री अनुभव को बेहतर बनाने और ज्यादा राजस्व का सोर्स बनाने के लिए निगम की व्यापक रणनीति का हिस्सा है।

ये भी पढ़ें- Gujarat में बीजेपी के खिलाफ क्यों हो गया ठाकुर समाज, क्या लोकसभा..

राज्स्व बढ़ाने में मदद-

पिछले समय में निगम ने मेट्रो स्टेशन पर सफलतापूर्वक छोटे कियोस्क स्थापित किए हैं और साथ ही व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए निजी कंपनियों के वाणिज्यिक स्थापित किए। इन पहलुओं ने सिर्फ ना राज्स्व बढ़ाने में मदद की, बल्कि मेट्रो कंपनियां नेटवर्क ने ज्यादा यात्रियों को आकर्षित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस सबके बीच नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन में दिल्ली की ब्लू लाइन पर एक इंटरचेंज स्टेशन के माध्यम से नोएडा एक्सटेंशन, जिसे की नोएडा वेस्ट ग्रेटर वेस्ट कहा जाता है तक अपने नेटवर्क का विस्तार करने के लिए एक परियोजना रिपोर्ट यानी डीपीआर को मंजूरी दे दी है। नोएडा सेक्टर 51 स्टेशन से नेशनल पार्क भी तक एक्वा लाइन कॉरिडोर के विकास के लिए डीपीआर में 2991.60 करोड रुपए की लागत से 17.43 किलोमीटर के मार्ग पर 11 स्टेशनों का सुझाव दिया गया है।

ये भी पढ़ें- Delhi के अस्पतालों से चोरी हो रहे नवजात बच्चे, CBI ने ऐसे पकड़ा रैकेट..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *