google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
CAA
Photo Source - Twitter

Thalapathy Vijay: साउथ के फिल्म स्टार थलपति विजय अब राजनीति में अपना डेब्यू करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। अब उन्होंने खुद की ही राजनीतिक पार्टी के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को शुरू कर दिया है। एक महीने के अंदर ही पार्टी के रजिस्ट्रेशन का काम हो जाएगा। विजय तमिलनाडु और केरल के कई जन कल्याण गतिविधियों में शामिल होते रहते हैं, साल 2018 में भी उन्होंने टुडू कुड़ी पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में मारे गए लोगों के परिवार के सदस्यों से भी मुलाकात की थी। तभी से विजय राजनीतिक कार्यक्रम में सक्रिय रहे हैं।

दक्षिणी जिलों का भी दौरा-

इसके अलावा उन्होंने पिछले महीने बाढ़ प्रभावित दक्षिणी जिलों का भी दौरा किया था और बाढ़ से प्रभावित लोगों को राहत सामग्री भी दी थी। ऐसे में तमिलनाडु में विरोधी दल के नेताओं को यह उम्मीद थी कि वह 2026 में राजनीति में एंट्री लेंगे। लेकिन उनके समर्थक जल्द से जल्द पार्टी का पंजीकरण कराने की मांग कर रहे थे और अभिनेता के क्लब के सदस्य की ओर से गुरुवार को एक सामान्य बैठक भी आयोजित की गई थी। जहां पर जानकारी के मुताबिकत, इसमें विजय की पार्टी रजिस्ट्रेशन और पार्टी के अध्यक्ष के रूप में उनका नाम नामित करने किया गया था। आने वाले एक महीने में पार्टी पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाएगा।

रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया भी शुरू-

इसके अलावा उन्होंने खुद ही राजनीतिक पार्टी के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया भी शुरू की है। ऐसे में फिल्म अभिनेता राजनीति में अपने डेब्यू के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, ऑल इंडिया थालापाठ्य विजय के फैंस का बनाया हुआ एक संगठन है। थालापाठ्य विजय संगठन के एक वरिष्ठ सदस्य हैं। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टी शुरू करने के लिए जो भी जरूरी है, वह सब कुछ किया जा रहा है। हमारे फैंस को वर्तमान में विशेष स्थानीय और कार्यक्रमों के लिए उत्साहित किया जा रहा है। प्रमुख मुद्दों और मतदाताओं से संबंधित सभी जिलों की बुनियादी डाटा कलेक्ट हो रहे हैं। भविष्य में क्या मुद्दे और एजेंडे होंगे, इसके लिए हम एजेंसीओं से संपर्क में हैं।

फैंस ग्रुप का गठन-

फिल्म इंडस्ट्री में उनके करिबियों का कहना था कि वह 2024 में लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे, लेकिन धीरे-धीरे योजना बनाएंगे। अभिनेता की योजना के बारे में बताते हुए उनके पिता का कहना है कि 2009 में उन्होंने अपनी राजनीतिक योजनाओं की शुरुआत की थी, जब फैंस ग्रुप का गठन हुआ था। विजय हमेशा से ही राजनीति में भाग्य को लेकर अनिश्चित रहे हैं और 2021 में उन्होंने हमें निजी तौर पर कहा था कि वह तब तक राजनीति पर विचार नहीं करेंगे। जब तक ज्यादा जरुरी नहीं हो जाता।हालांकि उनका फैसला वर्तमान में उनकी योजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए हो सकता है।

थालापति विजय और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी-

थालापति विजय और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी की मुलाकात बीते दिनों हो चुकी है। असल में अभिनेता के राजनीतिक पारदर्शन के बारे में शुरुआती अफवाहें राहुल से उनके दिल्ली आवास पर मिलने के बाद से ही शुरू हुई थी। हालांकि यह एक दशक पुरानी बात है और इसके बाद से ही उनके पिता चंद्रशेखर को विजय के लिए राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के आगे बढ़ते हुए देखा गया है। लेकिन बेटे संकोच करते हुए नजर आए हैं।

ये भी पढ़ें- Bigg Boss 17 फिनाले के इतने करीब ये कमटेस्टेंट हुआ बाहर, ये बने टॉप 5

11 व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज-

2020 में चंद्रशेखर ने विजय के नाम से एक संगठन का गठन किया था। जाहिर तौर पर यह विजय की अनुमति के बिना था। लेकिन सितंबर 2021 में विजय ने खुद को बीएमआई से सार्वजनिक रूप से दूर कर लिया और माता-पिता समेत 11 व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कर दिया था। इसके बाद बीएमआई को भंग कर दिया गया। एक महीने बाद विजय ने राजनीति में अप्रत्यक्ष रूप से प्रवेश कर लिया और जब उनके फ्रेंड्स ग्रुप में सदस्य ने ग्रामीण चुनाव लड़े तो 159 सीटों में से 115 सीटें जीती। हालांकि एक औपचारिक व्यवस्था के तहत हुआ।

ये भी पढ़ें- Bigg Boss17: वीकेंड के वार से पहले ये कंटेस्टेंट हुआ घर से बेघर, लाइव…

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *