google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Dubai
Photo Source - Twitter

Dubai: कुछ दिनों से दुबई में प्राकृतिक आपदा का सैलाब आ चुका है, क्योंकि शहर में भारी बारिश हुई, जिसकी वजह से बाढ़ आ गई। इससे हवाई यात्रा प्रभावित हुई और पूरे संयुक्त अरब अमीरात यानी UAE में सड़कों पर पानी भर गया, जिससे कि लोगों के काम रुक गए। यह पिछले 75 सालों में यूएई में हुई सबसे ज्यादा भारी बारिश थी। यूएई के मौसम बिभाग ने इसे ऐतिहासिक मौसम की घटना करार दिया है। जहां तक देश में तबाही की बात है तो अब दुबई में आसमान हरे होने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। कुछ समय पहले सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा थे, जिसमें दुबई में लोगों की गाड़ियां, लोग पानी में डूबे थे, सड़के पर पानी से भरी हुई थी।

दुबई का आसमान पूरा हरे रंग का-

वहीं अब एक और वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दुबई का आसमान पूरा हरे रंग का नजर आ रहा है। लोगों का कहना है कि यह तूफान के आने का संकेत है। सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हो रहा है, यह एक टाइम लैप क्लिप है जिसमें ग्रे आसमान को धूंधले हरे रंग में बदलते हुए दिखाया गया है। यह बारिश और तूफान का संकेत है। 17 अप्रैल को पोस्ट किए गए 27 सेकंड के इस वीडियो के कैप्शन में लिखा है, दुबई में आसमान हरा हो गयास, दुबई में आए तूफान की असली फुटेज। आप देख सकते हैं कि आसमान हरा हो गया है। एक अन्य यूजर का कहना है कि अभी दुबई की भारी बारिश में लाइव फुटेज में आसमान हरा हो गया है। पूरा शहर धूल से भरा हुआ है।

बवंडर आने वाला है?

एक अन्य यूजर का कहना है कि आमतौर पर जब आसमान ऐसा करता है, तो इसका मतलब है कि बवंडर आने वाला है। वह सुपर सेल बवंडर का रंग है,” मैंने इसे दक्षिणी पश्चिमी संयुक्त राज्य अमेरिका के रेगिस्तान में देखा था।” वहीं फॉक्स न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, वातावरण में रोशनी और बादल में बर्फ की बूंद की वजह से रंग बदल गया है। राष्ट्रीय मौसम सेवा अधिकारियों का कहना है कि तूफान वाले बादलों में पर्याप्त गहराई और पानी की मात्रा वाले बर्फ के कारण मुख्य रूप से नीली रोशनी दिखती हैं।

ये भी पढ़ें- Viral Video: महिला ने छोटी सी वजह पर पकड़ा सख्श का कॉलर, गालीयां..

आसमान क्यों हो गया हरा-

उनका कहना है कि जब वायुमंडल में बिखरी हुई लाल रोशनी बादलों में नीले पानी और बर्फ की बूंद की रोशनी से मिलती है तो यह हरे रंग की दिखने लगती है। नीले, हरे आसमान और बवंडर के बीच कोई संबंध नहीं है। इसका समर्थन करते हुए विकास विश्वविद्यालय मेडिसिन की एक रिपोर्ट में मौसम विज्ञान ग्रह अध्ययन के लिए सहकारी संस्थान के एक अनुसंधान मौसम वैज्ञानिक स्कॉट के हवाले से कहा गया, कि जब नीली वस्तुओं को लाल रोशनी के साथ रोशन किया जाता है, तो वह हरी दिखाई देने लगती है। हर रंग जरूरी है, लेकिन इस बात का प्रमाण नहीं है कि बवंडर आने वाला है। हरे बदल सिर्फ तभी होते हैं जब बादल बहुत गहरा हो और आमतौर पर सिर्फ गरज वाले बादलों में ऐसा होता है। ‌

ये भी पढ़ें- Video: बारात में सख्श ने सिर पर रखा जलते पटाखों का डिब्बा, उसके बाद..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *