google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
PM Modi
Photo Source - Twitter

PM Modi: साल 22 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने से इनकार करने के लिए मंगलवार को कांग्रेस पर निशाना साधा है। छत्तीसगढ़ के जांजगीर चंपा में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस नेता खुद को भगवान राम से भी ऊपर मानते हैं। उन्होंने राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के निमंत्रण को ठुकरा दिया था। क्या यह छत्तीसगढ़ का अपमान नहीं है? यह भगवान राम का ननिहाल है।

सष्टीकरण की राजनीति-

क्या यह माता शबरी का अपमान नहीं है, कांग्रेस सष्टीकरण की राजनीति करती रहती है, यह उनके डीएनए में है। वह तुष्टिकरण की राजनीति के लिए गरीबों, दलितों और आदिवासियों के अधिकार लेने में संकोच नहीं करेंगे। हमारी प्राथमिकता युवा गरीबों और महिलाएं हैं। रैली के दौरान पीएम मोदी ने बीजेपी संविधान बदल देगी, वाले दावे को लेकर कांग्रेस पर फिर से हमला बोला है।

पुरानी बातें दोहराने-

उन्होंने कहा कि जब भी चुनाव आता है कांग्रेस नेता वही पुरानी बातें दोहराने लगते हैं। उनका कहना है कि भाजपा सत्ता में आएगी और संविधान खत्म कर देगी और आरक्षण खत्म कर देगी। अब कब तक झूठ फैलाते रहेंगे, उनका कहना है कि संविधान को कोई नहीं बदल सकता। यह सब तब भी नहीं होगा, भले ही डॉक्टर बाबासाहेब आंबेडकर आए और इस पर जोर दें।

बहने और माताएं मेरा रक्षा कवच-

अगर कांग्रेस के लोग कहते हैं कि वह मोदी का सिर तोड़ देंगे, जब तक मेरे देश की माताएं और बहने मेरे साथ हैं। मोदी की कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। मेरी यह बहने और माताएं मेरा रक्षा कवच है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस के आलोचना करते हुए कहा कि जब उसके दक्षिण गोवा के उम्मीदवार बिरियतों फर्नांडिस ने दावा किया था कि भारतीय संविधान गोवा का जबरन थोपा गया था।

ये भी पढ़ें- Election 2024: वोटिंग में खुलेआम डाली जा रही है बाधा, लोकतंत्र का उल्लंघन, देखें वीडियो

कांग्रेस नेता राहुल गांधी-

2019 के लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ अपनी बातचीत का जिक्र करते हुए फर्नांडिस ने कहा था कि उन्होंने उनसे कहा था, जब 1961 में गोवा आजाद हुआ था, तो भारतीय संविधान हम पर थोप दिया गया था। गोवा के कांग्रेस उम्मीदवार का कहना है कि गोवा वासियों पर भारत का संविधान थोपा गया है, क्या यह अंबेडकर और संविधान का अपमान नहीं है।

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर तंज कसा-

इसके साथ सोमवार को एक रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर तंज कसा था। जिसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष ने इसे एक हेट स्पीच करार दिया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पीएम मोदी हमारे घोषणा पत्र को लेकर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। पीएम के इस बयान को लेकर कांग्रेस ने चुनाव आयोग को इसकी शिकायत की है।

ये भी पढ़ें- Viral: शादी कार्ड में छपवा दिया कुछ ऐसा, पीछे पड़ गई पुलिस

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *