google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Delhi March
Photo Source - Twitter

Delhi March: अगले दो दिनों तक Delhi NCR के लोग राहत की सांस ले सकते हैं। क्योंकि पंजाब हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर किसानों ने अपने दिल्ली मार्च को 2 दिन के लिए टाल दिया है। किसान नेता का कहना है कि शुक्रवार शाम तक अगली रणनीति के बारे में आप सभी को बताएंगे। उनका कहना है कि मोर्चा जारी रहेगा। अगली रणनीति का फैसला 2 दिन में लिया जाएगा। फिलहाल दिल्ली मार्च को रोका जाता है। किसानों का कहना है कि उनके साथ दुश्मनों की तरह व्यवहार हो रहा है और उन्हें जाने भी नहीं दे रहे।

आगे बढ़ने से रोक दिया-

हमारी मांगे भी पूरी नहीं कर रहे। इससे पहले पंजाब के अंदर सरकारी किसानों ने बुधवार यानी कि सुबह 11:00 बजे दिल्ली कूच की कोशिश शुरू की लेकिन बहुत प्रयास और रणनीति के बावजूद भी उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया। किसान नेता भी आगे जाने का प्रयास करने लगे, लेकिन नाकाम रहे और इस दौरान युवाओं ने जेसीबी व फ्लैशपोकलेन मशीनों का इस्तेमाल किया। लेकिन आंदोलनकारी नेताओं ने इसकी इजाजत नहीं की और इसके बाद नेताओं को भी अपने कैडर पर विरोध का सामना करना पड़ा।

सरवन सिंह बघेल-

शाम के समय सरवन सिंह बघेल ने प्रेस वार्ता में कहा कि सरकार को हमें शांति से आने देना चाहते हैं। लेकिन सरकार ने उन्हें जाने नहीं दिया। करौली बॉर्डर पर एक युवक की मौत हो चुकी है और तीन गंभीर रूप से घायल हैं। उनका कहना ही की अगली रणनीति की वार्ता शुक्रवार को होगी। जबकि कल और परसों पूरा दिन शांत रहेंगे। कुरुक्षेत्र में भारतीय किसान यूनियन के नेता चौधरी का बयान भी सामने है। उन्होंने कहा कि खनोरी बॉर्डर पर आज जो दुखदाई घटना होती देखी है।

पराली में मिर्च पाउडर डालकर आग-

उसे लेकर कल हरियाणा के सभी जिलों में सभी पदाधिकारी व किसान 12 से 2:00 बजे तक अपने जिले में रोड जाम करेंगे। उन्होंने कहा है कि पुतले फूकने की कार्यवाही रद्द कर दी गई है और सभी किसान शांतिपूर्ण तरीके से रोड जाम करेंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि खनोरी और दातासिंह बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों ने पराली में मिर्च पाउडर डालकर आग लगा दी। इसके बाद साथी पत्थर, लाठी का इस्तेमाल करते हुए पुलिसकर्मियों पर हमला भी किया। जिसमें 12 पुलिस में गंभीर रूप से घायल हुए और इसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज करते हुए प्रदर्शनकारियों को काफी दूर तक खदेड़ा।

ये भी पढ़ें- Delhi NCR के लोगों को मिलेगी जाम से राहत, ये 8 नई सड़कें जल्द खुलने..

दिल्ली चलो आंदोलन जारी-

इसी बीच प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली चलो आंदोलन जारी रखने की घोषणा के बाद दिल्ली पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा बढ़ा दी और अपने कर्मियों को गाजीपुर और शंभू बॉर्डर पर कड़ी निगरानी सुनिश्चित करने का आदेश दिया है। किसान नेताओं के साथ चौथे दौर की बातचीत में तीन केंद्रीय मंत्रियों के पैनल ने प्रस्ताव दिया कि किसानों की समिति के बाद सरकारी एजेंसी 5 साल तक मक्का, कपास एमएसपी पर खरीदेंगे। किसान नेताओं ने प्रस्ताव को यह कहते हुए अस्वीकार कर दिया कि यह किसानों के पक्ष में नहीं है। इस सब के बीच हरियाणा पुलिस ने खनन के काम में लगे लोगों से अपनी मशीन विरोध स्थल से वापस ले जाने के निर्देश दिए हैं और कहा किसान अपना मार्च फिर से शुरू करने वाले हैं, नहीं तो उन्हें कार्यवाही के लिए उत्तरदाई ठहराया जाएगा।

ये भी पढ़ें- Chandigrah Mayor Election पर अखिलेश ने कहा BJP चोरी से चुनाव जीत..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *