google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Farmar Protest
Photo Source - Twitter

Farmar Protest: मंगलवार यानी 13 फरवरी को पंजाब के किसान दिल्ली कूच कर रहे हैं। इसे लेकर ही नोएडा और दिल्ली में पुलिस द्वारा तैयारी पूरी की जा चुकी है। दिल्ली के सभी बॉर्डर को सील कर दिया गया है और हर जगह पर पुलिस और सुरक्षा बंदो का जबरदस्त पहरा है। दिल्ली के सभी बॉर्डर छावनी में तब्दील हो चुके हैं और किसानों की एंट्री पर पूरी तरह से रोक है। बॉर्डर पर सात लेयर की कड़ी सुरक्षा की तैयारियां पूरी हो चुकी है। गौतम बुद्ध नगर से दिल्ली सीमा लगने वाले सभी बॉर्डर पर बैरियर लगाकर पुलिस द्वारा चेकिंग हो रही है।

दिल्ली बॉर्डर पर लगने वाले सभी मार्गों पर यातायात का दवाब-

जिसकी वजह से दिल्ली बॉर्डर पर लगने वाले सभी मार्गों पर यातायात का दवाब बढ़ गया हैं और लोगों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। लोगों की परेशानियों को देखते हुए, जरूरत पड़ने पर गाड़ियों का भी डायवर्सन किया जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसानों के दिल्ली चलो प्रदर्शन की वजह से चिल्ला बॉर्डर पर भारी ट्रैफिक जाम देखने को मिल रहा है और अगर आप भी नोएडा से दिल्ली जाने का प्लान कर रहे हैं तो आपको एक बार यह पुलिस द्वारा दी गई एडवाइजर को जरूर देख लेना चाहिए।

पुलिस द्वारा एडवाइजरी जारी-

ट्रैफिक की स्थिति को देखते हुए ट्रेफिक पुलि द्वारा एडवाइजरी जारी की गई है। दिल्ली पुलिस द्वारा जारी की गई एडवाइजरी के मुताबिक, दिल्ली जाने वाले आमजन लोगों से अनुरोध है कि वह मेट्रो का इस्तेमाल करें। दूसरी ओर यमुना एक्सप्रेसवे से ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे होकर दिल्ली जाने वाले सिसरा से परी चौक होकर सूरजपुर जाने वाले मार्ग पर सभी प्रकार के मालवाहकों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। साथ ही एडवाइजरी में कहा गया कि वाहन चालक यातायात सुविधा और असुविधा से बचने के लिए वैकल्पिक मार्ग का इस्तेमाल कर गंतव्य की ओर जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें- Jayant Chaudhary ने क्यों थामा NDA का हाथ, खुद किया इसका खुलासा

चिल्ला बॉर्डर से जाने वाले वाहन-

चिल्ला बॉर्डर से जाने वाले वाहन सेक्टर 14 फ्लाईओवर से गोल चक्कर सेक्टर होकर संदीप पेपर मिल, झुंडपुरा चौक से गंतव्य को जा सकते हैं। वहीं डीएनडी फ्लाईओवर से जाने वाले वाहन फिल्म सिटी से 18 सेक्टर होकर एलिवेटेड रोड का इस्तेमाल कर सकते हैं। किसानों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए सड़कों पर बड़े-बड़े पत्थर रखे गए हैं। जिससे कि किसान आगे ना बढ़ सके। बैरिकेडिंग से रास्ते बंद है सड़कों पर नुकीली किले लगाई गई है। कोशिश यही है कि किसी भी सूरत में राजधानी का माहौल खराब ना।

ये भी पढ़ें- Bihar Politics: तेजस्वी यादव ने कसा नीतीश कुमार पर तंज, कहा अगर मन…

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *