google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Bird Flu
Photo Source - Google

Bird Flu: अगर आप लोग भी अंडा या फिर चिकन खाने के शौकीन है, तो आपको सावधान होने की जरूरत है। क्योंकि झारखंड में हाल ही में बर्ड फ्लू के मामले ने चिकन और अंडे खाने वालों को डरा दिया है। दरअसल रांची के एक सरकारी पोल्ट्री फार्म में ब्लू बर्ड के वायरस मिले हैं। सरकार ने अलर्ट जारी करते हुए मुर्गी और बत्तख में बर्ड फ्लू के वायरस मिलने के बाद पोल्ट्री फार्म कोटवार में 1,745 मुर्गियों, 450 बत्तख समेत करीब कि 2,195 पक्षियों को मार दिया है।

जबकि1,697 अंडे भी वैज्ञानिक तरीके से नष्ट कर दिए गए हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रांची के फार्म में H5n1 यानी बर्ड फ्लू के वायरस मिले हैं जिसके बाद प्रशासनिक अलर्ट मोड पर आ चुका है। यहां कंटेनमेंट जोन बनाए गए है। प्रशासन की टीम साफ तौर पर यहां बर्ड फ्लू मिले पक्षियो और अंडों नष्ट कर रही है।

Bird Flu से पक्षियों के साथ इंसान भी संक्रमित-

दरअसल बात यह है कि हर वायरस की तरह ही ये भी पशु पक्षियों के साथ-साथ इंसानों को भी संक्रमित करने की क्षमता रखता है। रांची के सरकारी पोल्ट्री फार्म में बर्ड फ्लू की पुष्टि होते ही, वहां काम करने वाले पोल्ट्री फार्म के दो डॉक्टर समेत कर्मचारियों को क्वॉरेंटाइन किया गया है। इसके अलावा पोल्ट्री फार्म के आसपास वाले इलाके को कंटेनमेंट ज़ोन घोषित किया गया। रांची से निकलकर दूसरे शहरों में Bird Flu ना फैल सके, इसे लेकर भी तमाम इतिहास बरती जा रही है।

Bird Flu के कारण चिकन और अंडों की बिक्री पर रोक-

ज़ी न्यूज़ के मुताबिक, राज्य के प्रशासन ने मुर्गियों में बर्ड फ्लू के सबसे खतरनाक वायरस H5n1 के मिलते ही बड़ा कदम उठाया है। रांची के होटल क्षेत्र में चिकन और अंडों की बिक्री पर रोक लगा दी गई है। इसके अलावा मुर्गियों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने पर भी बैन लगा दिया गया है। डॉक्टर ने चिकन और अंडा ना खाने के लिए लोगों को सलाह दी है। डॉक्टर्स का कहना है कि अगर चिकन अच्छी तरह से 70 डिग्री सेल्सियस पका हुआ हो तो कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन सुझाव यही है कि 1 महीने तक इसे ना खाना बेहतर होगा।

संक्रमण में सबसे कारगर दवा-

इसके साथ ही Bird Flu के संक्रमण में सबसे कारगर दवा माने जाने वाली दवा का ऑर्डर भी दे दिया है। डॉक्टर ने अपील की है कि डरने की जरूरत नहीं है, लेकिन यह खाने से फैल रहा है। संक्रमित पक्षी के संपर्क में आने से इसके वायरस इंसानों को भी बीमार कर रहे हैं। ऐसे में आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि इसकी पहचान कैसे करनी चाहिए। अगर आपको गले में खराश है या तेज बुखार है तो यह बर्ड फ्लू के लक्षण हो सकते हैं।

ये भी पढ़ें- Ghaziabad से नोएडा एयरपोर्ट जाने के लिए जल्द बनेगा फ्लाईओवर, जाम से..

बर्ड फ्लू के लक्षण-

उसके अलावा अगर आपको सर्दी, जुकाम और शरीर में दर्द महसूस हो रहा है तो बर्ड फ्लू के लक्षण हो सकते हैं। अगर आपको सांस लेने में एक दिक्कत है तो यह बर्ड फ्लू के लक्षण है। वही जो भी व्यक्ति बर्ड फ्लू संक्रमित है, उसे भूख कम लगती है। इसके अलावा अगर आपको सर्दी, जुकाम और शरीर में दर्द है, तो आप इसे अनदेखा न करें। क्योंकि यह ब्लू बर्ड के लक्षण हो सकते हैं। वहीं अगर आपको सांस लेने में दिक्कत आ रही है और आपको कफ की समस्या है, तो यह ब्लू बर्ड के लक्षण हो सकते हैं, जो व्यक्ति ब्लू बर्ड से संक्रमित है उसे नींद नहीं आती, हड्डी, जोड़ों में दर्द रहता है और भूख भी कम लगती है।

ये भी पढ़ें- IRCTC ने रेलवे स्टेशन पर सस्ते में भोजन के लिए लगाए फूड काउंटर, सिर्फ 20 रुपए में मिलेगा खाना

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *