google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
PM Modi
Photo Source - Twitter

PM Modi: लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मनरेंद्र मोदी पर हिंदू-मुस्लिम के बीच विभाजन को बढ़ावा देने का आरोप लगाया गया था, जिस पर अब पीएम मोदी ने अपना बचाव करते हुए कहा है कि “जिस दिन मैं हिंदू-मुस्लमान करुंगा, उस दिन मैं सामाजिक जीवन जीने के योग्य नहीं रहूंगा और मेरा यह संकल्प है कि मैं हिंदू-मुस्लिम नहीं करुंगा।

PM Modi “मुझे मेरे देश के लोग वोट देंगे”-

न्यूज़18 को दिए एक इंटरव्यू के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि मुझे विश्वास है कि मुझे मेरे देश के लोग वोट देंगे, उन्होंने आगे कहा कि मैं राजनिति में जिस दिन हिंदू मुस्लिम की बात करुंगा उस दिन मैं अपना सार्वजनिक जीवन जीने की अपनी ताकत को खो दूंगा। मैं मुस्लिम हिंदू की राजनिति नहीं करुंगा, यह मेरा संकल्प है।

PM Modi सिर्फ मुस्लिम समुदाय की बात नहीं-

इसके बाद उन्होंने ज्यादा बच्चे वालों और घुसपैठियों को लेकर जो बात कही थी उस पर कहा कि मैंने सिर्फ मुस्लिम समुदाय की बात नहीं कि है, मैंने हर गरीब परिवार की बात की है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मैं हैरान हुं कि जब मैने ज्यादा बच्चों की बात कही तो आप उसे मुस्लिम वर्ग के लोगों से क्यों जोड़ रहे हैं, मैंने हर उस गरीब परिवार कि बात की है जिसमें ज्यादा बच्चे हैं, जहां ज्यादा बच्चे हैं वहीं ज्यादा गरीबी है, मेरा कहना है कि आप कम बच्चे ही करें, उतने बच्चे जिनका पालन पोषण आप अच्छे से कर सकते हैं।

क्या है पूरा मामला-

दरअसल 21 अप्रैल को राजस्थान के बांसवाडा में एक सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा था, जिसमें उन्होंने कहा था कि जब कांग्रेस सत्ता में थी तो उन्होंने मुस्लमानों देश की संपत्ति पर पहला अधिकार दिया था, इसके बाद उन्होंने कहा कि उनका मतलब यह है कि यह उन लोगों को संपत्ति देंगे, जिनके ज्यादा बच्चे हैं, जो घुसपैठिय हैं, क्या आपकी मेहनत की कमाई उन घुसपैठियों को दी जानी चाहिए।

ये भी पढ़ें- Supreme Court ने अरविंद केजरीवाल के इस्तीफे का मांग वाली याचिका पर किया बड़ा फैसला

पीएम मोदी के इस भाषण के बात कांग्रेस ने चुनाव आयोग के पास बीजेपी को लेकर शिकायत दर्ज करवाई थी और कहा था पीएम मोदी ने चुनाव के नियमों की उल्लघन किया है और मुसलमानों के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की है, जिस पर चुनाव आयोग ने शिकायत पर बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष जेपी नड्डा से जवाब मांगा है। इसी भाषण पर बात करते हुए एक इंटरव्यू के दौरान पीएम मोदी ने सफाई दी है और कहा कि मैं सिर्फ एक समुदाय के बारे में बात नहीं कर रहा था, मैं हर गरीब परिवार के बारे में बोल रहा था।

ये भी पढ़ें- Delhi-Dehradun Expressway का पहला हिस्सा जल्द होगा शुरु, 5 घंटे का सफर आधे घंटे में होगा पूरा

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *