google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Air Taxi
Photo Source - Twitter

Air Taxi: Delhi NCR में मेट्रो और रैपिड रेल की सेवाएं तो शुरू हो चुकी है, इसका इस्तेमाल भी बहुत लोगों द्वारा किया जा रहा है और इससे यात्रा भी काफी आसान हो गई। लेकिन आने वाले कुछ ही सालों में Air Taxi की सेवा यहां शुरू कर दी जाएगी। देश की प्रमुख विमान कंपनी इंडिगो की मूल कंपनी इंटर ग्लोब इंटरप्राइजेज ने नई दिल्ली और गुरुग्राम के बीच इलेक्ट्रिक एयर टैक्सी सेवा शुरू करने के लिए अमेरिका की एक कंपनी आर्चर एविएशन के साथ हाथ मिलाया है। गुरुग्राम और दिल्ली के बीच एयर टैक्सी का संचालन साल 2026 तक शुरू होने की उम्मीद जताई जा रही है।

गुरुग्राम और नई दिल्ली के कनॉट प्लेस (Air Taxi)-

गुरुग्राम और नई दिल्ली के कनॉट प्लेस के बीच में एयर टैक्सी शुरू की जाएगी, इस एयर टैक्सी के इस्तेमाल से दोनों स्थानों के सफर सिर्फ 7 मिनट में ही पूरा किया जा सकेगा। एविएशन 200 इलेक्ट्रिक वर्टिकल टेक ऑफ और लैंडिंग एयरक्राफ्ट उपलब्ध कराने वाला है। इस एयर टैक्सी में पायलट समेत पांच व्यक्ति यात्रा कर पाएंगे, इसके साथ ही शुरुआती चरण में इंटर ग्लोब एविएशन और आंचल एविएशन के ज्वाइंट वेंचर का इरादा नई दिल्ली के साथ ही बेंगलुरु और मुंबई में भी अपनी सेवाएं देने का है।

सिंगल चार्ज में डेढ़ सौ किलोमीटर-

एक बयान में IGI ने अपना लक्ष्य बताते हुए कहा कि इंटर ग्लोब आर्चर उड़ान में यात्री कनॉट प्लेस से गुरुग्राम तक 27 किलोमीटर की यात्रा को सिर्फ 7 मिनट में ही पूरा कर सकता है। इसके साथ ही अभी कर यह दूरी तय करने में 60 से 90 मिनट का समय लगता है। वहीं इस एयर टैक्सी के आने से समय काफी हद तक काम हो जाएगा। इसमें पायलट के अलावा चार और यात्री बैठ पाएंगे। एयर टैक्सी के रेंज की बात की जाए तो यह टैक्सी सिंगल चार्ज में डेढ़ सौ किलोमीटर चलती है। इसे मिनिमम चार्ज टाइम के साथ तेजी से बैक टू बैक उड़ान भरने के लिए डिजाइन किया गया है।

ये भी पढ़ें- Car Care Tips: कार के स्क्रेच को आसानी से हटा सकते हैं आप, ये टिप्स..

फ्लाइट का किराया-

आंचल और इंडिगो एक साथ मिलकर बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर को डेवलप करने वाले हैं, विमान का संचालन करने और फंडिंग के लिए भी काम किया जाएगा। कनॉट प्लेस से गुरुग्राम तक 7 मिनट की फ्लाइट का किराया आर्चर एविएशन के मुताबिक 2000 से 3000 रुपए तक हो सकता है और एविएशन के संस्थापक और सीईओ का कहना है कि उस फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन के साथ चर्चा चल रही है और उनके विमान के लिए प्रमाण प्रक्रिया पूरी होने वाली है। प्रमाण पत्र का काम हो जाने के बाद से ही भारत के नागरिक उड्डयन महानिदेशालय से प्रमाणन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

ये भी पढ़ें- 5 CNG SUV List: खरीदना चाहते हैं सीएनजी एसयूवी, 15 लाख से कम कीमत में मिलेंगी ये कारे

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *