google-site-verification=YVHN2dtbiGoZ5Ooe2Ryl06rtke7l76iOlFsnK7NUB_U
Amazing Facts
Photo Source - Google

Amazing Facts: 17th सेंचुरी में लाजारूस कॉलराडो एक मर्डर के लिए कनविक्ट हुआ था और कोर्ट ने उसे मौत की सज़ी सुनाई थी। यानी उसको फांसी की सजा होने वाली थी। लेकिन वह एक शरीर नहीं था वह कंज्वाइंड ट्विंस थे। उसकी बॉडी के इस पार्ट से उसका एक भाई भी था, जो कि उससे जुड़ा हुआ था। लेकिन डेथ तो लाजारूस ने किया था और कोर्ट में भी यह प्रूफ हुआ और मौत की सज़ा मिली। लेकिन जब उसकी सज़ा का समय आया। तब उसने कोर्ट को यह कहा कि अगर उसे मारा गया तो उसके साथ जो उसका भाई है वो भी मर जाएगा।

लेकिन इसने कोई गलत काम नहीं किया है, तो यह इसके लिए तो नाइंसाफी हो गई और यह बात सुनने के बाद कोर्ट को भी टेक्निकल इस बात को एक्सेप्ट करना पड़ा और इस बात को कंसीडर करना पड़ा कि क्या करना चाहिए। उसका एग्जीक्यूशन रुक गया और उसे मौत की सज़ा नहीं हुई और वह नॉर्मली लाइफ जिने लगा। सिर्फ उसका भाई उसके साथ कंज्वाइंट था और उसको मारने पर वह भी मर जाता है जो की पब्लिक को एक्सेप्ट नहीं था। क्योंकि उसने कोई गलती नहीं की थी, तो यह एक बहुत ही अजीब सी कहानी थी।

फैक्ट नंबर- 2

थेड रॉबर्ट्स नासा का इंटर्न था जिसने एक बहुत ही अजीब सा काम किया। एक बचकानी हरकत इसने करीब 101 ग्राम चांद के रॉक जिसे की नासा के फैसिलिटी में रखा गया था, उसे चुरा लिया। नासा का लूनर लैब टेक्सस में मौजूद है और वह बहुत ही सीक्योर लोकेशन है। चांद और दूसरे ग्रहों का रॉक वहां पर अच्छे कंडीशन में रखे जाते हैं। लेकिन रॉबर्ट तो वहां पर इंटरनेट था तो वहां पर जितने भी सिक्योरिटी गार्ड्स थे उनसे उसका दोस्ती थी। तो उसने प्लान बनाया की 101 ग्राम मून रॉक जिसकी कीमत 21 मिलियन डॉलर्स यानी करीब 140 करोड़ रुपए है। वह उसे चुरा कर ले जाएगा।

उसने उसे चुराने के बाद अपनी गर्लफ्रेंड को बताया कि मैं तुम्हारे लिए चांद का टुकड़ा ले आया। जी हां यही उसका मकसद था और पकड़े जाने के बाद उसने यही कहा था कि वह मून के उन पीसेस को बेड पर चारों तरफ फैला कर लव मेकिंग करेगा। यानी लिटरेरी चांद पर रोमांस। साथ ही इस ड्रीम को पूरा करने के बाद वह उस रोक को दूसरे मिनरलोलॉजिस्ट को बेचना भी चाहता था और कई लोग मिल भी गए थे जो कि मुंह मांगी रकम पर चांद का टुकड़ा लेने के लिए तैयार थे। लेकिन उसके पहले ही उसको पकड़ लिया गया। सबको पता चल गया कि यही चोरी था। यह एक असल कहानी है जहां पर चांद का टुकड़ा रियल में बॉयफ्रेंड ने गर्लफ्रेंड को दिया था।

फैक्ट नंबर- 3

क्या आपको पता है की घड़ी क्लाकवाइज ही क्यों घूमती है। यानी राइट साइड। जिसको हम क्लॉकवाइज कहते हैं। कोई चीज लेफ्ट साइड घूम तो उसको हम एंटीक्लाकवाइज कहते हैं तो राइट साइड घूमने को क्लाकवाइज इसलिए कहा जाता है क्योंकि क्लॉक इसी साइड घूमती है। लेकिन सवाल यह है कि क्लॉक राइट साइड ही क्यों घूमती है तो इसका जवाब सनडायल में है। आपने तो सनडायल देखा ही होगा। एक ऐसा ऑब्जेक्ट जो की टाइम बताता हैय़ बिना किसी घड़ी के शैडो के जरिए जब धूप उस पर पड़ती है तो अपने शैडो से टाइम बताता है।

पहले के लोग इसी को समय देखने के लिए इस्तेमाल करते थे और इसमें जो शैडो का मूवमेंट होता था वह राइट साइड में होता था क्योंकि नेचर ही यही दिखा रही है कि राइट साइड में मूवमेंट हो रहा है। इसलिए इंसानों ने भी जब घड़ी बनाई जो की बैटरी के जरिए घूमती है, उसे भी सनडायल से कॉन्सेप्ट लेकर क्लाकवाइज रख दिया गया। लेकि अगर घड़ी उल्टी भी घूमती और हम लोगों के लिए उल्टी घड़ी ही नॉर्मल होता तो उससे क्या फर्क पड़ता है जो इधर हम देखते हैं कि यहां 3:00 बज रहे है तो ऑपोजिट भी हो सकता है ना लेफ्ट साइड होता। लेकिन इसको राइट साइड ही इसलिए बनाया गया क्योंकि संडियल में यही होता है।

फैक्ट नंबर – 4

.जिस तरह इंसानों अपने बच्चों से बाते करते हैं बच्चे से क्यूट और अच्छे तरीके से बात करते हो ऐसे ही डॉल्फिंस में भी पाया गया है। आपको पता ही होगा कि हमारी दुनिया में डॉल्फिंस सबसे इंटेलिजेंट क्रिएचर्स में आती हैं। इनमें भी बेबी टॉक पाया गया है जो की हाई पिच करके और स्लो पिच में अपने बच्चों से बात करते हैं। अपने ओरिजिनल पिच को बदलकर बेबी टॉक करते हैं। जैसा इंसान करते हैं। मतलब जानवरों की दुनिया में डॉल्फिन ही एक ऐसा क्रिएचर है जिसे ऐसा करते हुए देखा गया है। एनिमल किंगडम में जितने भी एनिमल्स हैं बाकी सब में चाहे बच्चे हों या चाहे एडल्ट हो वह एक स्टाइल से बात करते हैं। लेकिन डॉल्फिंस में ऐसा इंटेलिजेंस पाया गया है जिसमें उनके पेरेंटीमग का तरीका अलग होता है।

ये भी पढ़ें- Earth Without Human: इंसानो के खत्म होने के बाद धरती का क्या होगा

फैक्ट नंबर- 5

जो लोग एग यानी अंडा खाते हैं उनके लिए यह जानना बहुत जरूरी है। अगर आप अंडे को पानी में डालें और वह तैरने लगे तो आपको वह अंडा नहीं खाना चाहिए और अगर वह अंडा पानी में डूब गया, तो इसका मतलब वह एक फ्रेश एग है। ऐसा इसलिए है क्योंकि एग्स बहुत सारे छेद मौजूद होते हैं, जिसकी वजह से ये पानी में डूब जाता है। एक सिंपल सा एक्सपेरिमेंट है जो कि आप कर सकते हो। यह पता करने के लिए की एग फ्रेश है या नहीं।

ये भी पढ़ें- Rahasyamayi Shiv Mandir: कोई नहीं सुलझा पाया इन मंदिरों का रहस्य

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *